राधाकृष्ण आरती | Radhakrishna Aarti

ॐ जय श्री राधा जय श्री कृष्णश्री राधा कृष्णाय नमः.. घूम घुमारो घामर सोहे जय श्री राधापट पीताम्बर मुनि मन मोहे जय श्री कृष्णजुगल प्रेम रस झम झम झमकैश्री राधा…

Continue Readingराधाकृष्ण आरती | Radhakrishna Aarti

पार्वती माता चालीसा | Parwati Mata Chalisa

॥ दोहा ॥ जय गिरी तनये दक्षजे शम्भू प्रिये गुणखानि।गणपति जननी पार्वती अम्बे! शक्ति! भवानि॥ ॥ चौपाई ॥ ब्रह्मा भेद न तुम्हरो पावे, पंच बदन नित तुमको ध्यावे।षड्मुख कहि न…

Continue Readingपार्वती माता चालीसा | Parwati Mata Chalisa

शिव चालीसा | Shiv Chalisa

॥ दोहा ॥जय गणेश गिरिजा सुवन, मंगल मूल सुजान।कहत अयोध्यादास तुम, देहु अभय वरदान ॥ ॥ चौपाई ॥ जय गिरिजा पति दीन दयाला। सदा करत सन्तन प्रतिपाला ॥भाल चन्द्रमा सोहत…

Continue Readingशिव चालीसा | Shiv Chalisa

परशुराम चालीसा | Parshuram Chalisa

॥ दोहा ॥ श्री गुरु चरण सरोज छवि, निज मन मन्दिर धारि।सुमरि गजानन शारदा, गहि आशिष त्रिपुरारि॥बुद्धिहीन जन जानिये, अवगुणों का भण्डार।बरणों परशुराम सुयश, निज मति के अनुसार॥ ॥ चौपाई…

Continue Readingपरशुराम चालीसा | Parshuram Chalisa

तुलसी माता जी चालीसा | Tulsi Mata Ji Chalisa

॥दोहा॥ जय जय तुलसी भगवती सत्यवती सुखदानी।नमो नमो हरि प्रेयसी श्री वृन्दा गुन खानी॥श्री हरि शीश बिरजिनी, देहु अमर वर अम्ब।जनहित हे वृन्दावनी अब न करहु विलम्ब॥ ॥चौपाई॥ धन्य धन्य…

Continue Readingतुलसी माता जी चालीसा | Tulsi Mata Ji Chalisa

गौरी माता जी चालीसा | Gauri Mata Ji Chalisa

॥ चौपाई ॥ मन मंदिर मेरे आन बसो, आरम्भ करूं गुणगान,गौरी माँ मातेश्वरी, दो चरणों का ध्यान।पूजन विधी न जानती, पर श्रद्धा है आपर,प्रणाम मेरा स्विकारिये, हे माँ प्राण आधार।नमो…

Continue Readingगौरी माता जी चालीसा | Gauri Mata Ji Chalisa

End of content

No more pages to load